Ashwagandha ki kheti ke baare mein bataye

919 Views. कैसे करें सागौन (Teakwood) की उन्नत खेती और कमाएं मुनाफा. अश्वगंधा हमारे भारतीय चिकित्सा विज्ञानं और आयुर्वेद के अनुसार एक महत्वपूर्ण औषधिय पौधा है अश्वगंधा को असगंध, नागौरी असगंध, पुनीर, विंटर चेरी, 10 अगस्त 2015 अश्वगंधा की पौधा जुलाई-सितम्बर में फूल आता ह और नवम्बर-दिसम्बर में फल लगता है। अश्वगंधा की पौधे के फल से बीज निकालकर उसे सूर्य के रोषनी में सुखने दिया जाता है। अश्वगंधा की बुवाई खरीफ में जुलाई से सितम्बर तथा रबी में हरियाणा के सोनीपत जिले का अकबरपुर बरोटा गांव। यहां आने के पहले आपके मस्तिष्क में गांव और खेती का कोई और चित्र भले ही हो, परंतु यहां आते ही खेत, खेती एवं किसान के बारे में आपकी धारणा पूरी तरह बदल जाएगी। इस गांव में स्थित है श्री रमेश 22 जनवरी 2017 लखनऊ। देश-दुनिया में हर्बल उत्पादों की बढ़ती मांग के कारण देश के विभिन्न क्षेत्रों में किसान परंपरागत खेती के अलावा औषधीय और जड़ी-बूटियों की तरफ भी अपना रुख कर रहे हैं लेकिन उत्तर प्रदेश में इसकी खेती कम हो रही है। ऐसे में 26 जुलाई 2016 कई लोगों से आपने सुना होगा, पैसे क्या पेड़ पर उगते है? जी हां, पैसे पेड़ पर ही उगते हैं। इस बात को सच कर दिखाया है जमशेदपुर ब्लॉक स्थित हुरलुंग के बुद्धेश्वर महतो ने। उन्होंने गांव में रहकर एक लंबी और बढ़िया प्लानिंग की।25 दिसंबर 2015 Kya aap bhi Tulsi ke kheti ke bare mein jankari khoj rahe hain? Aaiye jante hai isksi jankari, scientific tarike se kaise kare - तुलसी के पौधे की खेती कैसे करे. जैविक खेती:. 10 अगस्त 2015 अश्वगंधा की पौधा जुलाई-सितम्बर में फूल आता ह और नवम्बर-दिसम्बर में फल लगता है। अश्वगंधा की पौधे के फल से बीज निकालकर उसे सूर्य के रोषनी में सुखने दिया जाता है। अश्वगंधा की बुवाई खरीफ में जुलाई से सितम्बर तथा रबी में . 818 Views. iffcolive. 13 सितंबर 2017 में कोलस्ट्राल की मात्रा को कम करने के लिये उपयोग किया जाता है। कमर एवं घुटना दर्द में भी उपचार के लिये अश्वगंधा का पाउण्डर को शक्कर का केण्डी एवं घी के साथ मिलाकर सेवन किया जाता है। organic farming: Ashwagandha. 778 Views. 30 मई 2017 Ashwagandha ki kheti kaise kare |. कैसे करें मधुमक्खी पालन , बढ़ाये अपनी फसल की पैदावार और कमायें दोगुना मुनाफा. TeakWood5. 25 अक्टूबर 2016 अश्वगन्धा की उन्नत खेती किस प्रकार करें | अशवगन्धा एक मध्यम आकर का एक बहुवर्षी पौधा है | इसके फल 6 मिलीमीटर चौड़े, गोलाकार, चिकने तथा लाल रंग के होते हैं | इस Ashwagandha Farming (अश्वगंधा की खेती) all - Iffcolive www. MOTI KI KHETI · मोती की खेती. 3 जनवरी 2017 honey 1. अश्वगंधा (विथानिया सोमनीफेरा) की उन्नत खेती. Iffco bannar 6-sep. 25 Eki 20169 Mar 201724 May 201617 Kas 201719 Haz 201512 Eki 201613 सितंबर 2017 में कोलस्ट्राल की मात्रा को कम करने के लिये उपयोग किया जाता है। कमर एवं घुटना दर्द में भी उपचार के लिये अश्वगंधा का पाउण्डर को शक्कर का केण्डी एवं घी के साथ मिलाकर सेवन किया जाता है। organic farming: Ashwagandha. com/ashwagandha-farming3 जनवरी 2017 honey 1